NSDL Se PAN Card kaise apply karein घर बैठे पैन कार्ड कैसे बनाये फ्री में ऑनलाइन आसानी से आवेदन कैसे करें?

Online PAN Card kaise apply karein घर बैठे पैन कार्ड कैसे बनाये फ्री में ऑनलाइन आसानी से आवेदन कैसे करें?

NSDL Se PAN Card kaise apply karein  घर बैठे पैन कार्ड कैसे बनाये फ्री में ऑनलाइन आसानी से आवेदन कैसे करें?

Online PAN Card kaise banaye? | घर बैठे पैन कार्ड कैसे बनाये फ्री में ऑनलाइन आसानी से आवेदन कैसे करें?पैन कार्ड सभी भारतीय नागरिको के लिए जरुरी पहचान पात्र के रूप में काम आता है।

पैन कार्ड बनवाना बेहद ही जरुरी होता है इसकी मदद से आपका बैंक अकाउंट खुलता है व् आप ऑनलाइन बड़ी मात्रा का पैसा एक जगह से दूसरी जगह भेज पाते है। पैन कार्ड 50,000 से जायदा की ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए जरुरी होता है। इसके अलावा आयकर भी आप पैन कार्ड के जरिए ही भरते हो।

इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि pan card kaise banaye online in hindi, pan card kaise banaye, mobile se pan card कैसे बनाये, पैन कार्ड कैसे बनाये, घर बैठे पैन कार्ड कैसे बनाये, मोबाइल पर पैन कार्ड कैसे बनाएं, सीएससी से पैन कार्ड कैसे बनाएं, आधार कार्ड से पैन कार्ड कैसे बनाएं?

पैन कार्ड क्या है? e-PAN Card kya hai?

PAN card full form in hindi: PAN की फुल फॉर्म होती है “Permanent account number” जिसे हिंदी में “स्थायी खाता संख्या” कहा जाता है।

पैन कार्ड पर एक 10 अंकीय संख्या होती है जैसे की “ABCDE1234F” जो की आयकर विभाग(income tax department) द्वारा जारी किया जाता है। इसे पैन कार्ड नंबर कहा जाता है। पैन नंबर कभी भी नहीं बदलता।

पैन कार्ड का उपयोग बैंक में लेनदेन, आयकर याने की इनकम टैक्स भरने, एक तरह के पहचान पत्र आदि के रूप में किया जाता है।

पैन कार्ड

PAN कार्ड का उपयोग बैंक एकाउंट में कि जाने वाली transaction को ट्रैक करने के लिए किया जाता है। PAN कार्ड का उपयोग आप अपनी पहचान पत्र के रूप में भी कर सकते है। एक व्यक्ति केवल एक ही पैन कार्ड बनवा सकता है। पैनकार्ड भारत सरकार के इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा जारी किया जाता है। यह एक तरह का पहचान पत्र होता है। पैन कार्ड का प्रयोग बैंक में खाता खुलवाने व आयकर(इनकम टैक्स) भरने के लिए किया जाता है।

PAN कार्ड पर 10 अक्षर का नंबर होता है जिसे PAN नंबर कहा जाता है। यह आपके सभी बैंक में लिंक होना बेहद जरूरी होता है। बिना पैन कार्ड के बड़ी कीमत की लेन देन लगभग नामुमकिन होती है। इसके अलावा पैन कार्ड पे आपका नाम, signature, जन्म तिथि, पिता का नाम व एक बार कोड होता है। पैन कार्ड के पीछे एक पता होता जो कि किसी के गायब हुए पैनकार्ड के मिलने पर वह पैनकार्ड उस पते पर भेजना होता है।

e-pancard: यह पैन कार्ड ही होता है बस यह एक ऑनलाइन डॉक्युमनेट की तरह होता है। इसका उपयोग कहीं भी जैसे कि बैंक आदि में कर सकते है। e-pan card इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा जारी किया जाता है इसे आप कभी भी ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते है।

  • पैन कार्ड आयकर भरने के लिए जरूरी होता है। पैनकार्ड से आप आसानी से आयकर याने इनकम टैक्स भर सकते है।
  • पैन कार्ड कोई भी संपात्ति खरीदने व बेचने के लिए चाहिए होता है।
  • 50,000से अधिक की ऑनलाइन लेन देंन पैन कार्ड के बिना नही की जा सकती।
  • आप पैन कार्ड की मदद से सिम कार्ड खरीद सकते है।
  • आप पैन कार्ड की मदद से बैंक खाता खुलवा सकते है।
  • 25,000 रुपये से ज्यादा किसी होटल में बिल भरने के लिए आपका पैन नंबर चाहिए होता है।
  • आप पैन की मदद से डिमैट एकाउंट याने की शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कर सकते है।
  • LIC की सालाना पॉलिसी जो कि 50,000 या उस से अधिक की है तो उसे भरने के लिए पैन कार्ड चाहिए होता है।
  • नए डेबिट या क्रेडिट कार्ड के लिए आपको पैन नंबर चाहिए होता है।
  • यदि आप कोई नई वाहन लेना चाहते है तो पैन नंबरचाहिए होता है।

PAN Card बनवाने के लिए जरुरी डॉक्युमनेट क्या है

पैन कार्ड बनवाने के आपको नीचे दिए हुए डॉक्युमनेट की जरूरत पड़ती है।

पहचान का proof: इसके लिए आप आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, वाहन लाइसेंस, आदि का उपयोग कर सकते है।

पते का proof: इसके लिए आप वोटर कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट आदि का उपयोग कर सकते है।

जन्म तिथि का proof: इसके लिए आप अपना जन्म प्रमाण पत्र(बर्थ सर्टिफिकेट), आधार कार्ड या अपनी 10वी, 12वी को मार्कशीट आदि का उपयोग कर सकते है।

पैन कार्ड बनवाना किस के लिए जरुरी होता है?

आयकर अधिनियमों के तहत यह आदेश दिया गया है कि जिस भी व्यकित की कुल कमाई या आय 5 लाख से या उस से कम है याने की जिस राशि पर टैक्स नही लगता है उनके लिए यह इतना जरूरी नही है। लेकिन जिस व्यक्ति को आयकर भरने की आवश्यकता होती है उन्हें पैन कार्ड जरूर बनवाना होता है। बिना पैन नंबर के इनकम टैक्स ई फाइलिंग नही कर सकते है।

PAN card kaise banaye  पैन कार्ड कैसे बनाये मोबाइल से

आप पैनकार्ड ऑनलाइन या offline दोनो तरीको से बना सकते है। Pan card बनाना बहुत ही आसान है। इस पोस्ट में हम आपको pancard बनाने के ऑनलाइन व ऑफलिने दोनो तरीके बताएंगे। घर बैठे ऑनलाइन पैन कार्ड आप आसानी से बना सकते है। आपको पैन कार्ड बनाने के लिए सभी जरूरी डॉक्युमनेट लेने व ऑनलाइन पैन कार्ड के लिए नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करना है:

Offline पैन कार्ड कैसे बनाये

Offline पैनकार्ड बनवाने के इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने काफी जगह पैनकार्ड हेल्प सेंटर खोले हुए है जहाँ पे जाके आप अपना पैनकार्ड बनवा सकते है। आपको बस एक फॉर्म भरना होता है और आपको जरूरी डॉक्युमनेट उस फॉर्म के साथ लगा के जमा करने होते है। अपको अपने डॉक्युमनेट को सेल्फ attach याने की sign करके देना होता है। Pan कार्ड के लिए फॉर्म(form 49a) आप किसी भी पैनकार्ड सुविधा केंद्र से ले सकते है या ऑनलाइन डाउनलोड करके प्रिंट करवा के निकाल सकते है। उसके बाद आपको पेमेंट करनी होती है। उसके बाद डॉक्यूमेंट जमा करा दे या NSDL के पते पर भेज दे। फिर 10-15 दिन ने पैन कार्ड आपके पते पर आ जाएगा।

New Pan 49a Form Download Karein Click Here

Online PAN card kaise banaye – घर बैठे पैन कार्ड कैसे बनाये

पैनकार्ड ऑनलाइन बनाना बेहद ही आसान है आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके आसानी से पैन कार्ड ऑनलाइन फॉर्म भर सकते है। नीचे दिए हुए स्टेप भारत के नागरिक के लिए है।

स्टेप  1- आपको NSDL(नेशनल सिक्योरटीज डेपोजिटीरी लिमिटेड) की वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपको वहां Apply online का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको उसपे क्लिक करना है।

स्टेप  2- अब आपको Apply online पे click करना है। उसके बाद आपको application type में जाके New PAN कार्ड(49a) में क्लिक करना है। फिर आपको category में क्लिक करके Individual वाले ऑप्शन में क्लिक करना है। अब आपको आपका नाम,जन्म तिथी, ईमेल आईडी व फ़ोन नंबर डाला होगा। अब capcha डाल के submit बटन में क्लिक करना होगा। याद रहे डिटेल्स भरने से पहले NSDL की गाइडलाइन्स जरूर पढ़े।

स्टेप  3- आपको एक नया पेज दिखाई देगा जहा आपको अपने डॉक्युमनेट verify करने के लिए 3 ऑप्शन आएंगे जैसे कि

  • Submit Digitally Through e-KYC & e-sign (Paperless)
  • Submit Scan Images Through e-sign (NSDL e-GOV)
  • Forward Application Documents Physically

आप इन सभी मे से कोई ऑप्शन का उपयोग कर सकते है। इनमे से सबसे अच्छा व फ़ास्ट ऑप्शन e-kyc & e-sign digitally वाला होता है।

स्टेप  4- अब आपको जो ऑप्शन आसान लगे उस पे क्लिक करके अपना फॉर्म भर दे। आपको एक acknowledgement नंबर मिला होगा उसको सेफ जगह लिख के रखे।

स्टेप  5- अंत मे आपको पेमनेट करनी होती है। जाने पैन कार्ड बनवाने में कितना पैसा लगता है? पैन के लिए आवेदन करने का शुल्क ₹93 (भारतीय लोगो के लिए माल और सेवा कर को छोड़कर) और विदेशी लोगो के लिए ₹864 (माल और सेवा कर को छोड़कर)। आवेदन शुल्क का भुगतान क्रेडिट / डेबिट कार्ड, डिमांड ड्राफ्ट या नेट-बैंकिंग के माध्यम से किया जा सकता है।

स्टेप  6- एनएसडीएल को भेजे जाने वाले online दस्तावेज और payment स्वीकार किए जाने के बाद, आवेदक को courier / पोस्ट के माध्यम से एनएसडीएल को सहायक दस्तावेज भेजना जरूरी होता है। दस्तावेजों की प्राप्ति के बाद ही, पैन आवेदन को एनएसडीएल द्वारा संसाधित किया जाएगा। आपको दस्तावेजों में पहचान का एक प्रमाण, पते का एक प्रमाण और जन्म तिथि का एक प्रमाण पत्र शामिल करना होता है। दस्तावेजों की पूरी सूची पहले ही बता दी गयी है।

NSDL address/पता:  4th Floor, Mantri Sterling,Plot No. 341, Survey No. 997 /8, Model Colony, Near Deep Bungalow Chowk, Pune – 411 016

Tel: 020 – 27218080

Fax: 020 – 2721 8081

Files

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0